कब है रक्षा बंधन 30 या 31, जानें सही तिथि व शुभ मुहूर्त

रक्षाबंधन/Raksha Bandhan का पर्व श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि/Purnima Tithi को मनाया जाता है लेकिन इस बार बहुत से हमारे बंधुओं को कन्फ़्यूशन है कि इस बार रक्षाबंधन 30 को है या 31 अगस्त को, क्या इस बार रक्षाबंधन/Raksha Bandhan पर भद्रा का साया रहेगा। क्या है रक्षा बंधन का सही मुहूर्त/Raksha Bandhan Shubh Muhurat व राखी बाँधते समय बहनों को किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, जानेंगे ये सब बातें व एक ऐसी टिप के बारे में जो प्रत्येक बहन को अपने भाई की कलाई पर राखी बाँधते समय ज़रूर करनी चाहिए ।

हिंदू धर्म में रक्षा बंधन पर्व/Raksha Bandhan Festival 2023 का विशेष महत्व है इस दिन बहनें अपने लाड़ले भाई की कलाई पर राखी बांधती है व ईश्वर से अपने भाई के सफल जीवन की कामना करती हैं। इसके बदले में भाई अपनी बहन को उनकी रक्षा का बचन देते हैं ।

इस बार रक्षाबंधन/Raksha Bandhan पर भद्रा का साया रहेगा जिस बजह से इस बार यह पर्व दो दिन मनाया जायेगा।

रक्षा बंधन शुभ मुहूर्त/Raksha Bandhan Muhurat

चूँकि इस बार पूर्णिमा तिथि 30 अगस्त को सुबह दस बजकर अट्ठावन मिनट पर शुरू होगी साथ ही भद्रा/Bhadra भी इसी समय से शुरू होगी और 30 अगस्‍त की रात नो बजकर एक मिनट पर समाप्त होगी। इसलिए इस बार रक्षाबंधन का मुहूर्त/Raksha Bandhan Muhurat शाम तीस अगस्त नो बजकर एक मिनट से 31 अगस्त सुबह सात बजकर 5 मिनट तक रहेगा।

हिंदू धर्म में भद्रा काल/Bhadra kaal व राहु काल में राखी बाँधना वर्जित माना गया है इस दौरान किए गये सभी शुभ कार्य अशुभ माने जाते हैं ।

इन बातों का रखें विशेष ख़्याल: सभी बहनें राखी बांधने से पहले इस बात का विशेष ध्यान रखें कि राखी बांधते समय काले रंग की राखी का प्रयोग न करें क्योंकि हिंदू धर्म में काले रंग को नकारात्मकता का प्रतीक माना गया है।

एक्स्ट्रा टिप: जब बहनें राखी बांधें तो ध्यान रखें की भाई का मुख उत्तर-पूर्व दिशा में होना चाहिए और तिलक के समय थाली में टूटे हुए चावल नहीं होने चाहिए।